पति का प्यार पाने के टोटके

[Total: 71    Average: 4.6/5]

पति का प्यार पाने के टोटके

पति का प्यार कैसे पाएं, पति का प्यार पाने का मंत्र/उपाय, पति को आकर्षित करने का मंत्र/उपाय- दाम्पत्य जीवन का आधार प्रेम और विश्वास पर टिका होता है| कई बार सब कुछ ठीक होते हुए भी पति अपनी पत्नी से विमुख हो जाता है, दुर्व्यवहार करने लगता है| इस विमुखता के पीछे अन्य स्त्री, गलत संगत अथवा दुर्भावना से प्रेरित अपने परिजन भी हो सकते हैं| ऐसी स्थिति में कुछ टोटके, मंत्र अथवा वशीकरण बहुत ही कारगर सिद्ध होते हैं|

पति का प्यार पाने के टोटके
पति का प्यार पाने के टोटके

पति का प्यार पाने के लिए टोटके

  • भारतीय ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जिस जातक के सातवें भाव में राहु बैठा होता है, उसका वैवाहिक जीवन कष्टप्रद होता है| निदान के लिए पीड़ित स्त्री को निरंतर 40 दिनो तक बादाम अथवा नारियल बहते हुए जल में बहा देना चाहिए| यदि कुंडली दोष के कारण पति विमुख हो गया हो, तो इस उपाय से ग्रह दोष समाप्त हो जाते हैं, तथा दाम्पत्य जीवन में सरसता आती है|
  • यदि पति किसी अन्य स्त्री के फेर में फंस गए हों, तथा इस वजह से आपस में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई हो, तो गुरुवार अथवा शुक्रवार की रात बारह बजे पति के बालों का थोड़ा सा हिस्सा काटकर उसे ऐसी जगह रख दें जहां उनकी दृष्टि न पड़े| इस क्रिया से आपके पति का मन प्रेयसी की तरफ से पूरी तरह हटकर आपकी तरफ आकर्षित हो जाएगा| कुछ अंतराल बाद उन बालों को जला दें तथा अपने पैरों से रौंदकर घर से बाहर कहीं दूर फेंक दें| यह टोटका मासिक धर्म के समय करने से ज्यादा प्रभाव दिखाता है|
  • अपने जीवन सहचर को डाल्फिन मछली भेंट में दें|
  • अपने शयन कक्ष में पूरब अथवा पश्चिम दिशा की दीवार पर डाल्फिन मछलियों की तस्वीर लगाएँ अथवा प्रतिमा रखें|
  • नवविवाहित दंपत्ति के शयन कक्ष में मेंडेरियन बत्तख का युगल का चित्र रखने से वर-वधू में जीवन भर प्रेम बना रहता है|
  • किसी भी शुक्रवार की रात को तीन इलायची लेकर अपने शरीर से स्पर्श करें, अपने कुलदेवता अथवा इष्टदेव से प्रार्थना करते हुए आँचल से बांध लें| अगले दिन उस इलायची को पीसकर किसी भी व्यंजन में मिलाकर खिला दें| ऐसा निरंतर तीन शुक्रवार तक करने से पति आपकी तरफ आकृष्ट होगा तथा दाम्पत्य जीवन में मधुरता आएगी|
  • शनिवार अर्धरात्रि में अपनी मुट्ठी में कुछ लौंग रखें, अब इक्कीस बार अपने पति का नाम लेते हुए उस लौंग पर फूँक मारे तथा अग्नि को समर्पित कर दें| आठ दिनो तक निरंतर इस टोटके को आजमाना चाहिए| इस टोटके से सातवें दिन व्यवहार में परिवर्तन तथा आठवे दिन सहज प्रेम प्रस्फुटित हो जाता है|
  • छोटी सी तराजू लें, इसके एक पलड़े पर अपने बाएँ पैर का चप्पल रखेँ तथा दूसरे पलड़े पर चप्पल के वजन बराबर आटा रखें| वजन बिलकुल सटीक होना चाहिए| अब उस आटे की रोटी बनाकर पति को खिला दें| उसका व्यवहार आपके प्रति मृदु होने के साथ-साथ असीम प्रेमपूर्ण हो जाएगा|

 

पति का प्यार पाने का मंत्र/उपाय,

साथ रहते हुए भी दूर हो जाने वाले पति को पुनः अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए शास्त्रों कुछ अचूक मंत्रों की चर्चा की गई है| इनमे से कुछ सरल मंत्रों का विवरण नीचे दिया जा रहा है –

  • पति का प्रेम प्राप करने के लिए सर्वप्रथम गणेश जी एवं माँ दुर्गा की पूजा करें, तत्पश्चात निम्नलिखित मंत्र पाँच माला, 21 दिनों तक जाप करें| यह मंत्र शीघ्र परिणाममूलक है|

हे गौरी यथा त्वं शंकरप्रिया, तथा मा कुरु कल्याणी कान्त कांता सुदुर्लभवाम|

उपर्यक्त मंत्र देवी पार्वती से संबन्धित है तथा अत्यंत सिद्ध माना जाता है| एक अन्य उपाय के तहत छोटी से पीतल की डिबिया में देवी पार्वती की छोटी सी प्रतिमा गंगाजल से धोकर स्थापित करें| उक्त मंत्र का नित्य पाँच बार जाप करते हुए देवी को सिंदूर चढ़ाएँ तथा उसी सिंदूर से मांग भर लें| इसे जीवनपर्यंत किया जा सकता है| देवी पार्वती की कृपा से पति का मन नहीं भटकता तथा दाम्पत्य जीवन में स्थायी प्रेम बना रहता है|

  • शुक्ल पक्ष के रविवार को प्रातः काल स्नानादि से निवृत होकर पूजा स्थल में एक थाली पर केसर से स्वास्तिक का चिन्ह बनाएँ, उसके ऊपर गंगाजल से धोकर मोती शंख स्थापित करें तथा धूप, गाय घी का दीप, अगरबत्ती, कपूर आदि से पूजन करें| प्रसाद में बताशे चढ़ाएँ| पूजन के पश्चात स्फटिक की माला पर, एक माला नित्य एक माह तक निम्नलिखित मंत्र का जाप करें –

ॐ हृीं वांछितं मे वशमानय स्वाहा

इस मंत्र के जाप से एक महीने के बाद सुखद परिणाम सामने आते हैं|

  • यदि पति आपकी बात बिलकुल नहीं सुनता हो, तो एक नीबू पर अपने पति का नाम लिखकर रुमाल में बांध लें तथा अपने पास छुपाकर सात दिनों तक रखें| इन सात दिनो में निम्नलिखित मंत्र का जाप करें –

ॐ नमो कामख्या देव्याय ((पति/पत्नी) )मम वश्यं कुरु कुरु स्वाहा,..

सात दिन के बाद नींबू को चौराहे पर ले जाकर फेंक दें| इस मंत्र युक्त टोटके के बाद पति केवल आपकी बात सुनेगा|

 

पति का प्यार पाने के लिए वशीकरण

स्थिति अत्यधिक बिगड़ जाए और पति बारंबार छोड़ देने की धमकी देने लगे तो वशीकरण का प्रयोग भी किया जा सकता है| यदि किसी अच्छे उद्देश्य के लिए वशीकरण का प्रयोग किया जाए तो वह नैतिक रूप से भी मान्य है|

  • वशीकरण हेतु नारियल, धतूरे का बीज तथा कपूर, एक साथ मिलाकर पीस लें, तत्पश्चात उसमे शहद का योग देकर उससे नित्य बिंदी लगाएँ| ध्यान रखें सबसे पहले वह बिंदी पति ही देखे| इस प्रयोग का सकारात्मक असर कुछ ही दिन में दिखने लगेगा| इसे खुद तथा पति को लेप के रूप में लगाने से भी पति को वशीभूत किया जा सकता है|
  • किसी भी माह के शुक्ल पक्ष में नूतन लाल कपड़े पर देवी दुर्गा को स्थापित करें, पान के पत्ते पर चन्दन और केसर मिश्रित कर रखें तथा देवी को समर्पित करें| इसके बाद निरंतर तेंतालीस दिनों तक चंडी स्तोत्र का पाठ करें| पाठ समाप्त होने के उपरांत देवी को समर्पित चन्दन और केसर से तिलक लगाएँ| इस तिलक के प्रभाव से पति सम्मोहित हो जाता है|
  • धतूरे का बीज, बिजौरे की जड़ तथा प्याज एक साथ पीसकर पति को सूंघा दें, वह आपके वश में आ जाएगा|
  • शुक्ल पक्ष में किसी रविवार की रात में पाँच लौंग लेकर अपने शरीर की ऐसी जगह से लगाकर रखें, जहां पसीना आता हो| सुबह उन पांचों लौंग को सुखाकर चूर्ण बना लें तथा किसी पेय में मिलाकर पीला दें| इस प्रयोग से आपके प्रति उपेक्षा भाव रखने वाला पति आपकी तरफ आकर्षित हो जाएगा|
  • सफ़ेद गुंजा की जड़ घिस लें, सुबह स्नान तथा पूजा के बाद उससे तिलक करें| इस तिलक के प्रभाव से आपका पति आपके वश में होगा|